How To Reprogram Yourself

 409 total views,  1 views today

how to reprogram yourself

How To Reprogram Yourself 

हेलो दोस्तों! आप सभी का फिर से स्वागत हैं हमारे आज के बोहत ही इंटरेस्टिंग टॉपिक पर! आज का हमारा टॉपिक है “Reprogram Yourself ” अब हम खुद रिप्रोग्राम कैसे करें? और हमे रेप्रोग्रम्मिंग की ज़रूरत क्यों है? हम इन दोनों सवालो क जवाब आज जानेंगे!

दोस्तों हम सबकी लाइफ में कुछ ऐसे इंसिडेंट हुए होते है जहाँ हम खुद को एक फेलियर के रूप में पाते है! लेकिन वही वो मूवमेंट भी होते है जो या हमारा बेस्ट वर्शन हमारा कोर बाहर निकालता हैं या फिर ख़तम करता है डिपेंड करता है कि आप स्ट्रांग है या वीक!

अब Strong कैसे बन सकते है? Strong Programming से!
आपको अपनी Programing  Change करनी होगी, अपने Thoughts, आदतें,सुररौनडिंग्स बदलने होंगे यही तरीका है!

अब हम जानेंगे खुद को कैसे प्रोग्राम करें जिससे हम अपने गोआल की तरफ बढ़ते रहने के लिए मोटीवेट करे लेकिन उससे पहले आपको अपने Goal में Clarity रखनी होगी की आप Actually क्या चाहते है!

Remove Wrong Beliefs :- सबसे पहले आपको अपने डिस्बेलिएफ हटाने होंगे अपने दिमाग से और जाने कि आप सब कुछ कर सकते है जो आप चाहे!

सारा खेल ही सोच इस और Belief का है खूद पर यकीन करना है और इस यकीन को अपनी आदत बनानी कि आप अपने गोल्स अचीव कर सकते है! और आप कर लेंगे! 

दोस्तों इसके लिए हमने आपके लिए एक कोर्स बनाया है जहा आप सीखेंगे की कैसे आप अपनी पूरी लाइफ को 5 दिन में प्लान कर सकते है,
Join के लिए क्लिक करे।

 

Get Out From Your Comfort Zone :- अब आप अपने गोल्स के लिए क्लियर है और यकीन भी करते है की आप उन्हें पूरा कर लेंगे तो बेशक़ आपको अपने कम्फर्ट जोन को छोड़ना ही होगा , इतिहास गवाह है कम्फर्ट जोन में रह कर सपने पूरे नहीं होते!

 Give Commitment to Your-self: – आप अपने आप को यानी खुद को Commitment दो क्युकी आप Successful होना चाहते हो! आप किसी और के लिए Successful  नहीं होओगे! जब तक आप खुद से वफादार नहीं रहोगे आप आगे नहीं बढ़ सकते! इसलिए खुद की कमिटमेंट पर Loyal रहे!

Reprogram Yourself

 

 Action :- इन सब प्लानिंग क बाद एक्शन में लाना बेहद ज़रूरी हैं एंड अपना काम टाइम क According करें अपना टाइम बर्बाद न करें!

तो दोस्तों इसी के साथ Learn Kiya How To Reprogram Yourself ,  I Hope  आपको अच्छा लगा होगा और जब भी आपको कि आपकी Life को प्रोग्रामिंग की ज़रूरत हैं ज़रूर अरे और अंदर के Best Part को निकालो क्युकी, “दी बेस्ट पार्ट ऑफ़ सक्सेस इस स्टार्ट विथ यू एंड नाउ” 


Ekta Verma

Comments

comments

Leave a Reply